Bollywood News In Hindi : Rishi Kapoor’s wife shared an emotional post and paid tribute, the daughter wrote- I wish I was there to say goodbye to you. | पत्नी नीतू ने परिवार की ओर से भावुक पोस्ट शेयर की, बेटी रिद्धिमा ने लिखा- काश, मैं आपको अलविदा कह पाती

दैनिक भास्कर

Apr 30, 2020, 06:02 PM IST

मुंबई. ऋषि कपूर के देहांत के बाद उनकी पत्नी नीतू ने पूरे परिवार की ओर से सोशल मीडिया पर एक भावुक पोस्ट शेयर की। जिसमें उन्होंने बताया कि ऋषि चाहते थे कि वे आंसू नहीं, बल्कि मुस्कुराहट के साथ याद किए जाएं। नीतू के अलावा उनकी बेटी रिद्धिमा कपूर साहनी ने भी एक इमोशनल पोस्ट के जरिए अपने पिता को याद किया। इसमें उन्होंने पिता को आखिरी बार नहीं देख पाने पर अफसोस जताया।

नीतू ने जो पोस्ट शेयर की उसमें लिखा था, ‘दो साल तक ल्यूकेमिया के साथ लड़ने के बाद हमारे प्यारे ऋषि कपूर का आज सुबह 8 बजकर 45 मिनट पर अस्पताल में निधन हो गया। अस्पताल के डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ ने कहा कि वे अंत तक हमारा मनोरंजन करते रहे। दो महाद्वीपों में दो साल तक उनका इलाज चला और इस दौरान वे खुशमिजाज और जिंदादिल बने रहे। परिवार, दोस्त, खाना और फिल्मों पर ही उनका फोकस था। इस दौरान जो भी उनसे मिला, वो यह जानकार हैरान रह गया कि उन्होंने कैसे अपनी बीमारी को खुद पर हावी नहीं होने दिया।’

वे मुस्कुराहट के साथ याद आना चाहते थे

‘वे दुनियाभर के अपने फैन्स से बरसते रहे प्यार को लेकर बेहद आभारी रहे। उनके निधन के बाद सभी फैन्स इस बात को समझेंगे कि ऋषि चाहते थे कि उन्हें मुस्कुराहट के साथ याद किए जाए, ना कि आंसुओं के साथ।’

नियम-कानूनों का सम्मान करने के लिए कहा

‘इस निजी क्षति के बीच हमारा ये भी मानना है कि दुनिया फिलहाल बेहद कठिन और मुसीबत के दौर से गुजर रही है। आवाजाही और सार्वजनिक स्थानों पर इकट्‌ठा होने से जुड़ी कई तरह की पाबंदियां हैं। हम उनके सभी फैन्स, चाहने वालों और दोस्तों के परिवारों से यह निवेदन करते हैं कि वे नियम-कानूनों का सम्मान करें। उनके पास इससे बेहतर कोई विकल्प नहीं हैं।’

बेटी ने लिखा- काश आपको अलविदा कह पाती

रिद्धिमा ने लिखा- ‘पापा मैं आपसे प्यार करती हूं और हमेशा करती रहूंगी। आपकी आत्मा को शांति मिले। मेरे सबसे ताकतवर योद्धा मैं आपको हर दिन याद करूंगी। मैं आपके फेसटाइम कॉल्स को रोजाना मिस करूंगी। काश मैं वहां पहुंच पाती और आपको अलविदा कह पाती, तब तक के लिए जब तक कि हम फिर से ना मिलें, पापा आई लव यू… आपकी मुश्क।’ बता दें कि दिल्ली में रहने की वजह से वे अपने पिता के अंतिम दर्शन नहीं कर सकीं। हालांकि वे मुंबई के लिए सड़क के रास्ते निकल गई थीं, लेकिन उनके पहुंचने से पहले ही उनके पिता का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

Source link

Leave a Comment

%d bloggers like this: