Center said- violation of lockdown and lack of resources in Bengal is a matter of concern, states should ensure this | केंद्र ने बंगाल से कहा- बाजारों में भीड़, क्रिकेट और फुटबॉल भी खेला जा रहा; राज्य में लॉकडाउन का उल्लंघन चिंता का विषय

  • केंद्रीय गृह सचिव ने बंगाल के मुख्य सचिव को पत्र लिखकर कहा- लॉकडाउन का सख्ती से पालन करवाएं
  • केंद्र ने बंगाल की स्थिति का जायजा लेने के लिए दो टीमें भेजी थीं, जिनकी रिपोर्ट के आधार पर यह पत्र लिखा

दैनिक भास्कर

May 06, 2020, 11:47 PM IST

नई दिल्ली. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने बुधवार को पश्चिम बंगाल में लॉकडाउन के दिशा-निर्देशों के हो रहे उल्लंघन और प्रवासी मजदूरों की अनदेखी को लेकर चिंता जताई। केंद्रीय गृह सचिव ने इस संबंध में बंगाल के मुख्य सचिव को पत्र भी लिखा। उन्होंने राज्य में क्वारैंटाइन किए जाने को लेकर उपलब्ध संसाधनों की कमी की ओर भी इशारा किया।

उन्होंने लिखा कि कोलकाता और हावड़ा में बाजारों में भीड़, साफ-सफाई में कोताही, मास्क के बिना लोगों के भीड़ में चलने, नदियों में नहाने, क्रिकेट और फुटबाल खेलने के मामले यह बताते हैं कि राज्य में लॉकडाउन का उल्लंघन किया जा रहा है।

‘पीपीई किट और एन-95 मास्क की गुणवत्ता भी खराब’

पत्र में लिखा गया कि कंटेनमेंट जोन में रिक्शा आदि चलाये जाने की घटनाएं भी सामने आई हैं। यह सबकुछ खराब निगरानी और कमजोर निरीक्षण का उदाहरण है। दूसरा राज्य सरकार ने संक्रमित लोगों के संपर्क और उनकी पहचान के आंकड़े भी केंद्र को नहीं दिए हैं। पीपीई किट और एन-95 मास्क की गुणवत्ता भी खराब है। ये आईसीएमआर के मानकों के अनुरूप नहीं है।

गृह सचिव ने कहा- सभी मुद्दों का तुरंत समाधान करें

गृह सचिव ने राज्य और जिला प्रशासन से इन सभी मुद्दों का तुरंत समाधान करने के लिए कहा है। दरअसल, केन्द्रीय गृह सचिव ने बंगाल की स्थिति का आकलन करने के लिए पश्चिम बंगाल में केंद्र की दो टीमें भेजी थीं। इनकी रिपोर्ट के आधार पर गृह सचिव ने बंगाल के मुख्य सचिव को पत्र लिखा।

Source link

Leave a Comment

%d bloggers like this: