Coronavirus cases in India Kerala Pune | Coronavirus India Total Cases Latest News Updates: France, Germany and Spain suspending regular and e-Visas | देश में 69 मामले, विदेशों से आने वालों का वीजा 15 अप्रैल तक सस्पेंड; 7 देशों से आए लोगों को 14 दिन आइसोलेशन में रखा जाएगा

  • 15 फरवरी के बाद चीन, इटली, ईरान, दक्षिण कोरिया, फ्रांस, स्पेन और जर्मनी से आए लोग आइसोलेशन में रखे जाएंगे
  • कर्नाटक में संदिग्ध मरीज की मौत, अगर रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो देश में संक्रमण से मौत का यह पहला मामला होगा

Dainik Bhaskar

Mar 11, 2020, 11:00 PM IST

नई दिल्ली. कोरोनावायरस को विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने महामारी घोषित कर दिया है। संगठन ने कहा कि समाज और अर्थव्यवस्था पर पड़ रहे कोरोना के प्रभाव को कम करने के लिए हम कई सहयोगियों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। इस बीच ारत ने विदेशों से आने वाले नागरिकों के वीजा 15 अप्रैल तक निलंबित कर दिए हैं। चीन, इटली, ईरान, दक्षिण कोरिया, फ्रांस, स्पेन और जर्मनी से 15 फरवरी के बाद आने वाले यात्रियों को कम से कम 14 दिन आइसोलेशन में रखा जाएगा। भारत में कोरोना के 69 मामले हो गए। सबसे ज्यादा जयपुर में 18, इसके बाद केरल में 14, महाराष्ट्र में 11 और उत्तर प्रदेश में 9 मामले सामने आए हैं। 

कोरोनावायरस प्रभावित देशों से 948 यात्रियों को निकाला
भारत सरकार ने कहा है कि अब तक कोरोनावायरस प्रभावित देशों से 948 यात्रियों को निकाला गया है। इनमें से 900 भारतीय हैं, जबकि 48 दूसरे देशों के नागरिक हैं। इन देशों में मालदीव, म्यांमार, बांग्लादेश, चीन, अमेरिका, मैडागास्कर, श्रीलंका, नेपाल, दक्षिण अफ्रीका और पेरू शामिल हैं।

केरल में 85 वर्षीय बुजुर्ग की हालत गंभीर

राज्य के स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक, देश में संक्रमण के कुल 62 मामले हो गए हैं जबकि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने 52 मामलों की पुष्टि की है। वहीं, केरल में 85 साल की बुजुर्ग संक्रमित महिला की स्थिति नाजुक बनी हुई है जबकि महिला के 96 साल के पति की हालत स्थिर है। दरअसल, वे कोरोनोवायरस से संक्रमित व्यक्ति के माता-पिता हैं, जो 29 फरवरी को पत्नी और 24 वर्षीय बेटे के साथ इटली से लौटा था।

एयर इंडिया के विमान से इटली से 83 नागरिक लौटे

एयर इंडिया का विमान बुधवार को 83 नागरिकों को लेकर इटली के मिलान से नई दिल्ली पहुंचा। सभी यात्रियों को हरियाणा में मानेसर के सैन्य कैंप में निगरानी में रखा गया है। इनमें भारत के 74, इटली के 6 और अमेरिका के तीन नागरिक हैं। 

दिल्ली एयरपोर्ट पर यात्रियों की जांच करते कस्टम के अधिकारी।

फ्रांस, जर्मनी और स्पेन के नागरिकों के देश में प्रवेश पर प्रतिबंध

सरकार ने वायरस के खतरे को देखते हुए फ्रांस, जर्मनी और स्पेन के नागरिकों के देश में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है। इन तीनों दिशों से आने वाले उन नागरिकों के नियमित और ई-वीजा पर भी रोक लगा दी है, जिन्होंने देश में प्रवेश नहीं किया है। इमिग्रेशन ब्यूरो ने मंगलवार देर रात नोटिफिकेशन जारी कर ये जानकारी दी। इसके साथ ही जिन नागरिकों ने 1 फरवरी या उसके बाद स्पेन, जर्मनी और फ्रांस की यात्रा की है, उनका भी नियमित और ई-वीजा निलंबित किया गया है।

वुहान से लौटे 36 भारतीयों समेत 112 नागरिकों की 14 दिनों की क्वारैंटाइन खत्म हो गई। उन्हें दिल्ली के छावला स्थित आईटीबीपी केंद्र में निगरानी के लिए रखा गया था।

कोरोनावायरस से प्रभावित देशों में यात्रा से बचने की सलाह

कैबिनेट सचिव राजीव गॉबा ने मंगलवार को कई मंत्रालयों और विभागों के सचिवों के साथ उच्चस्तरीय बैठक की, जिसके बाद यह नोटिफिकेशन जारी किया गया। इससे पहले स्वास्थ्य मंत्रालय ने चीन, इटली, जर्मनी, दक्षिण कोरिया, फ्रांस, स्पेन समेत कोरोनावायरस से प्रभावित देशों में यात्रा करने से बचने की सलाह दी है।

केरल में संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 14 पर पहुंचा
केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने मंगलवार को कहा- राज्य में अब तक संक्रमण के 14 मामले सामने आ चुके हैं। इसके खतरे को देखते हुए सातवीं तक की कक्षाएं और परीक्षाएं 31 मार्च तक स्थगित रहेंगी। कक्षा 8, 9 और 10 की परीक्षाएं निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार होंगी। 31 मार्च तक ट्यूशन क्लास, आंगनवाड़ी, मदरसे बंद कर दिए गए हैं। 11-31 मार्च तक थिएटर भी बंद रहेंगे।

31 मार्च तक विदेशी शिप की एंट्री बैन

  • भारत ने 31 मार्च तक सभी विदेशी शिप की एंट्री बैन कर दी है। इसी के तहत मंगलौर में एक यूरोपियन कंपनी का जहाज वापस भेज दिया गया। रविवार को यूरोपियन कंपनी एमएससी क्रूज की शिप लिरिका को मंगलौर तट पर एंट्री नहीं दी गई। इस कंपनी की वेबसाइट के मुताबिक, यह दुनिया की सबसे बड़ी निजी क्रूज लाइन है। इसके दुनियाभर में 30 हजार से ज्यादा कर्मचारी हैं।
  • स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने सोमवार को कहा था- मास्क और सैनिटाइजर को लेकर अफवाह फैलाई जा रही है। सभी को मास्क लगाने की जरूरत नहीं है। केवल जो अस्वस्थ है, उसे मास्क पहनना जरूरी है ताकि किसी और को इन्फेक्शन न हो।

संक्रमण की जांच के लिए देश में 52 लैब
इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने स्वास्थ्य और शोध विभाग के साथ मिलकर संक्रमण की जांच के लिए देशभर में 52 लैब बनाई हैं। दिल्ली के लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज समेत देश के कई स्थानों पर वायरस रिसर्च एंड डॉयग्नॉस्टिक लैब (वीआरडी) नमूने एकत्रित कर रही हैं। 6 मार्च तक 3,404 लोगों के 4,058 सैंपल की जांच की जा चुकी है। इनमें चीन के वुहान से लाए गए 654 लोगों के 1,308 सैंपल भी शामिल हैं।

विदेशी यात्रियों की 30 एयरपोर्ट्स पर स्क्रीनिंग
देश के 30 एयरपोर्ट्स पर विदेश से आने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग की जा रही है। दक्षिण कोरिया और इटली से आने वालों को देश में प्रवेश करने से पहले कोरोनावायरस फ्री सर्टिफिकेट दिखाना होगा। सरकार इटली, ईरान, दक्षिण कोरिया और जापान से आने वाले लोगों के वीजा और ई-वीजा रद्द कर चुकी है। केंद्र सरकार के दफ्तरों में 31 मार्च तक बायोमीट्रिक अटेंडेंस पर रोक लगा दी गई है।

दिल्ली हाईकोर्ट ने दिल्ली सरकार को नोटिस जारी किया

दिल्ली हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस डीएन पटेल और जस्टिस सी. हरिशंकर ने वकील त्रिवेणी पोटेकर की याचिका पर सुनवाई करते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय और दिल्ली सरकार को नोटिस जारी किया। इस याचिका में कहा गया था कि देश में संक्रमण फैलने का गंभीर खतरा है। छोटे शहरों और ग्रामीण इलाकों में स्क्रीनिंग, टेस्टिंग, आइसोलेशन सुविधाएं और सुरक्षा उपकरणों के साथ प्रशिक्षित कर्मचारियों का अभाव है। उन्होंने कोर्ट से मांग की थी कि सरकार इससे संबंधित जानकारी उपलब्ध करवाए। कोर्ट ने सुनवाई 30 मार्च तक स्थगित की।

Source link

Leave a Comment

%d bloggers like this: