IAF chief RKS Bhadauria termed the Balakot airstrike as the resolve of political leadership to punish perpetrators of terrorism, बालाकोट एयरस्ट्राइक जैसी रणनीति आतंकियों को सजा देने के राजनीतिक नेतृत्व का संकल्प: वायुसेना प्रमुख | states – News in Hindi

आतंकी हमलों से निपटने के लिए सरकार के तरीके में बड़ा बदलाव आया- वायुसेना प्रमुख

एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया ने दिया बयान.

भारतीय वायुसेना (Indian air force) आज अपना 87वां स्‍थापना दिवस मना रही है. एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया (Rakesh kumar singh bhadauria) ने कहा कि आतंकी हमलों से निपटने के लिए सरकार के तरीके में बड़ा बदलाव आया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated:
    October 8, 2019, 11:03 AM IST

नई दिल्‍ली. भारतीय वायुसेना (Indian air force) आज अपना 87वां स्‍थापना दिवस मना रही है. इस दौरान एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया (Rakesh kumar singh bhadauria) ने फरवरी में पाकिस्‍तान के बालाकोट में आतंकी ठिकानों पर की गई एयरस्‍ट्राइक का जिक्र किया. उन्‍होंने कहा, ‘बालाकोट एयरस्ट्राइक जैसी रणनीति आतंकियों को सजा देने के राजनीतिक नेतृत्व का संकल्प है.’ उन्‍होंने यह भी कहा कि आतंकी हमलों से निपटने के लिए सरकार के तरीके में बड़ा बदलाव आया है.

वायुसेना प्रमुख ने 14 फरवरी को हुए पुलवामा हमले को लेकर पाकिस्‍तान पर निशाना साधते हुए कहा कि मौजूदा समय में पड़ोसी देश में सुरक्षा के हालात काफी चिंताजनक हैं. पुलवामा पर आतंकी हमला हमारे देश के रक्षा प्रतिष्ठानों के लिए लगातार खतरे की याद दिलाता है.

 

फरवरी में हुआ था पुलवामा हमला
बता दें के 14 फरवरी को जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा में आतं‍कियों ने सीआरपीएफ के काफिले पर हमला किया था. इसमें 40 जवान शहीद हुए थे. इसके बाद ही भारतीय वायुसेना ने बालाकोट में एयरस्‍ट्राइक करके पाकिस्‍तान को मुंहतोड़ जवाब दिया था.

भारतीय वायुसेना का 87वां स्‍थापना दिवस
भारतीय वायुसेना का आज 87वां स्‍थापना दिवस है. इस दौरान वायुसेना गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस में समारोह आयोजित कर रही है. इसमें चिनूक, मिराज 2000, मिग 29, सुपर हक्‍र्यूलिस, ग्‍लोबमास्‍टर समेत शक्तिशाली विमान और हेलीकॉप्‍टर अपने शौर्य का प्रदर्शन कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें : पहला राफेल जेट लेने फ्रांस पहुंचे राजनाथ, करेंगे शस्त्र पूजा और भरेंगे उड़ान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First published: October 8, 2019, 10:51 AM IST

Source link

Leave a Comment

%d bloggers like this: