Jaipur Jodhpur (Rajasthan) Coronavirus Cases/Unlock Phase-1 Update | Rajasthan Corona Cases Deaths District Wise Today News; Jaipur Jodhpur Bharatpur Kota Ajmer Dungarpur | 67 नए पॉजिटिव केस आए, 15 हजार के करीब पहुंचा आंकड़ा; कोरोना के खिलाफ प्रदेश में 10 दिवसीय जागरुकता अभियान शुरू

  • अभियान का लक्ष्य राजस्थान में कोरोना रिकवरी की दर अधिक तेजी से बढ़े व मृत्यु दर निरंतर कम होते हुए शून्य हो जाए
  • होम आइसोलेशन में रहने वाले कोरोना संक्रमित मरीजों को निशुल्क उपचार की सुविधा नहीं दी जा रही

दैनिक भास्कर

Jun 22, 2020, 11:31 AM IST

जयपुर. सोमवार को कोरोना के 67 नए मामले सामने आए। इनमें जयपुर में 28, धौलपुर में 10, अजमेर, झुंझुनू और कोटा में 6-6, दौसा में 5, टोंक में 2, सिरोही में 1 संक्रमित मिले। इसके साथ दूसरे राज्य से आए 3 भी पॉजिटिव मिले। जिसके बाद कुल संक्रमितों का आंकड़ा 14997 पहुंच गया। 

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जागरूकता अभियान का शुभारंभ, 11500 ग्राम पंचायतें जुड़ीं
कोरोना के खिलाफ प्रदेश में सोमवार से 10 दिवसीय जागरुकता अभियान आज से शुरू हो गया। देश के पहले इस अभियान में प्रदेश की 11500 ग्राम पंचायतें वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से जुड़ीं। सीएम अशोक गहलोत ने इस विशेष अभियान की शुरुआत अपने निवास से सुबह 11 बजे वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से की। ‘खुद के स्वास्थ्य का खुद ख्याल रखना ही कोरोना से बचने का मुख्य उपाय है‘, थीम के साथ संचालित इस अभियान का लक्ष्य है कि राजस्थान में कोरोना संक्रमण से रिकवरी की दर अधिक तेजी से बढ़े व मृत्यु दर निरंतर कम होते हुए शून्य हो जाए।

कोटा में मकबरा पुलिस ने फ्लैग मार्च निकाला। इस दौरान लोगों ने मार्च का स्वागत किया, लेकिन सोशल डिस्टेसिंग के नियमों को भूल गए। 

जयपुर: कजाकिस्तान से आए 17 युवकों को कोरोना
सीएमएचओ जयपुर प्रथम डॉ. नरोत्तम शर्मा ने बताया कि 14 जून को कजाकिस्तान से कई युवक आए थे। उन्हें टोंक रोड स्थित अलग-अलग होटल में ठहराया गया था। 16 जून को सभी युवकों की कोरोना जांच की गई थी। इन सभी को सख्त हिदायत थी कि बाहर नहीं निकलें। जांच में 17 युवकों में पॉजिटिव आने के बाद सभी को आरयूएचएस में भर्ती कराया गया है।

जोधपुर: होम आइसोलेशन में नहीं मिल रहा निशुल्क इलाज
जिला प्रशासन की ओर से होम आइसोलेशन में रहने वाले कोरोना संक्रमित मरीजों को निशुल्क उपचार की सुविधा नहीं दी जा रही। मरीजों को दवाइयों का खर्चा स्वयं ही उठाना पड़ रहा है। इसके अलावा थर्मामीटर व प्लसऑक्सीमीटर तक मरीज खुद ला रहे हैं। जबकि राज्य सरकार की ओर से निशुल्क चिकित्सा व्यवस्था देने के निर्देश हैं। लेकिन शहर में होम क्वारेंटाइन किए हुए मरीजों को इलाज का खर्चा स्वयं उठाना पड़ रहा है।

सैंपलिंग में कोटा का प्रदेश में तीसरा स्थान
कोटा मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल विजय सरदाना ने बताया कि कोविड में टेस्टिंग सबसे अहम कड़ी है। इसी पर हमने फोकस किया और आज हमारी टेस्टिंग क्षमता राेजाना 1200 से 1500 तक पहुंच गई है। सरकार से भी पूरी मदद मिल रही है, अब तक करीब साढ़े 8 करोड़ रुपए उपकरणों पर खर्च किए गए हैं। तमाम जरूरी मशीनें खरीदी गई हैं और कुछ और मशीनें आने वाली हैं। सरकार ने प्राइवेट सेक्टर में टेस्ट के 4500 रुपए निर्धारित किए हैं, हमारे यहां भी एक टेस्ट पर सरकार का लगभग 2500 रुपए खर्च हो रहा है, इसमें मैनपावर, मशीनों का खर्च भी जोड़ सकते हैं। हमारी लैब की टीम रात-दिन लगी हुई है।

कोटा मेडिकल कॉलेज में कोरोना टेस्टिंग लैब।

राजस्थान: जयपुर में हुई सबसे ज्यादा मौतें

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 2887 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 2461 (इनमें 47 ईरान से आए), भरतपुर में 1332, पाली में 945, उदयपुर में 645, कोटा में 561, नागौर में 597, डूंगरपुर में 414, अजमेर में 455, झालावाड़ में 367, सीकर में 443, चित्तौड़गढ़ में 204, सिरोही में 359, टोंक में 200, जालौर में 230, भीलवाड़ा में 227, राजसमंद में 199, झुंझुनूं में 314, चूरू में 247, बीकानेर में 189, जैसलमेर में 112 (इनमें 14 ईरान से आए), बांसवाड़ा में 92, बाड़मेर में 192, मरीज मिले हैं।
  • अलवर में 352, धौलपुर में 412, दौसा में 109, बारां में 62, सवाई माधोपुर में 75, करौली में 70, हनुमानगढ़ में 48, प्रतापगढ़ में 14 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। श्रीगंगानगर में 40, बूंदी में 10 पॉजिटिव मिला। जोधपुर में बीएसएफ के 50 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं दूसरे राज्यों से आए 80 लोग पॉजिटिव मिले।
  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 349 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में सबसे ज्यादा 149 की मौत हुई। इसके अलावा, जोधपुर में 30, भरतपुर में 30, कोटा में 19, अजमेर में 14, नागौर में 12, पाली में 8, बीकानेर में 7, चित्तौड़गढ़ में 6, अलवर, सिरोही, सवाई माधोपुर और सीकर में 5-5, करौली और बारां में 4-4, धौलपुर और भीलवाड़ा में 3-3, चूरू, बाड़मेर, उदयपुर, दौसा, बांसवाड़ा और जालौर में 2-2, गंगानगर, झुंझुनू, राजसमंद, प्रतापगढ़ और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है। वहीं दूसरे राज्य से आए 26 व्यक्ति की भी मौत हुई है।

Source link

Leave a Comment

%d bloggers like this: